आत्मनिर्भर गांव से ही आत्मनिर्भर भारत बनेगा -पोपटराव पवार

0
307

शास्वत विकास से शास्वत आनंद को जोड़ना होगा तभी सम्पूर्ण विकास होगा उक्त उद्गार अभ्यास

मंडल द्वारा आयोजित ५८ वी ग्रीष्म कालीन व्याख्यानमाला में महाराष्ट्र राज्य मॉडल ग्राम योजना

के कार्यकारी निर्देशक और सामाजिक कार्यकर्ता श्री पोपटराव पवार ने वियक्त कीये उन्हीने  कहा आदर्श  गांव ऐसा हो की शहर से लोग   गांव आने लगे आज शहर की नकारात्मकता गांव में

आने लगी हे जिसके कारन जहा घर -घर में दूध बहा करता था वहा शराब आगई आज दुःख की

बात यह हे की गांधीजी का ग्राम स्वराज ठीक तरह से लागु नहीं हुआ जहा गांव के विकास की योजना

गांव से बनकर  जाना चाहिए राजधानी में बनी योजना से सिर्फ कुर्सी का विकास होसकता हे गांव का नहीं वही उन्होंने कहा,

“की जिनको हम नदी माँ कहते हे उनको हमने ड्रेनेज बना दिया आज इंडिया की समस्या अलग और

भारत की समस्या अलग हे जाती-पाती से बहार आकर कार्य करेंगे तो ही आदर्श ग्राम बनेगा