प्लॉट की दो रजिस्ट्री को लेकर डीआईजी को शिकायत

0
101

इंदौर। जमीन पर कब्जे को लेकर भू माफिया नए तरह क योजना बनाते है। ऐसे ही एक मामले में तीन प्लॉटो से मिलकर बने एक प्लॉट को लेकर बुधवार को डीआईजी आफिस ओर द्वारकापुरी टीआई से शिकायत की गई है। जिसमें बताया गया है कि लाखों के प्लॉट पर एक महिला की मदद से दो लोग काम कर रहे हैं, जो असली दस्तावेज वाले व्यक्ति को झूठे केस में फंसने की धमकी देकर पीछे हटने की बात कर रहे है। मामले में कोर्ट की तरफ से उक्त प्लॉट पर काम रोकने के निर्देश दिए गए है।
मामला द्वारकापुरी थाना क्षेत्र के ऋ षि नगर का है। यहां 24,25 और 26 नंबर के प्लॉट पर निर्माण कार्य किया जा रहा है। उक्त मामले में प्लॉट के कागज लेकर जब प्रेम प्रजाप्रत पहुंचा तो उसे ज्योति सलोजिया नाम की महिला ने प्लॉट खरीदने की बात कही। आरोप है कि जब प्रेम प्रजाप्रत ने उक्त प्लॉट के दस्तावेज अपने नाम से होने की बात कही तो महिला ने उसे झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर वहां से भगा दिया। मामले में डीआईजी हरीनारायण चारी मिश्र ओर द्वारकापुरी टीआई देवेन्द्र कुमार को शिकायत की गई है कि उक्त विवादित प्लॉट पर राजेन्द्र सिंह चौहान ओर अशोक जयसवाल द्वारा ज्योति के रिश्तेदार मनोहर सलोजिया के साथ मिलकर काम किया जा रहा है। उक्त प्लॉट के दस्तावेज उनके पास नही है। मामले में उसने कोर्ट में भी शिकायत की थी। जिसमें कोर्ट ने वहां यथास्थिती के आदेश दे दिए थे। बावजूइ इसके सभी लोग थाने में मौजूद एक सिपाही की मदद से वहां काम करवा रहे है।
बताया जाता है कि अशोक जयसवाल पर उसकी रिश्तेदार महिला भी प्रॉप्रटी पर कब्जे को लेकर आरोप लगा चुकी है। करीब एक सप्ताह पूर्व जायसवाल ने अन्नपूर्णा थाने में महिला के खिलाफ धमकाने की शिकायत दर्ज कराई थी। पूर्व में इस कॉलोनी से लगे एक प्लॉट के विवाद में भी अशोक जयसवाल का नाम सामने आ चुका है।
मामले में जब राजेन्द्रसिंह चौहान से बात की गई तो उन्होने बताया कि उक्त प्लॉट उसने 15 साल पहले ज्योति को बेचा था। वह आसपास की कॉलोनी मे कई सालो से प्रॉपर्टी का काम कर रहे है। इस प्लॉट पर अभी ज्योति उसके रिश्तेदार मनोहर और अशोक जयसवाल का काम चल रहा है। शिकायत करने वाले प्रेम ने भी कही ओर से नकली कागज बनाव लिए है। वो भी इस प्लॉट को लेकर हमारे पास आ चुके है।