प.बंगाल :: आसनसोल में साम्प्रदायिक हिंसा , इंटरनेट बंद , 60 लोग गिरफ्तार

0
71

आसनसोल। पश्चिम बंगाल के आसनसोल-रानीगंज इलाके में रामनवमी के एक जुलूस को लेकर फैली हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। आसनसोल के पुलिस कमिश्नर के अनुसार इंटरनेट सर्विस को अगले 48 घंटों के लिए बंद कर दिया गया है। हालांकि मोबाइल फोन सेवाएं चालू हैं। इलाके में आईपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दिया है। वहीं आसनसोल में ही करीब 60 लोगों गिरफ्तार किया है। आसनसोल, रानीगंज,बर्धमान सहित कई जगहों पर अभी तक हालात ठीक नहीं है। इलाके में पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है और आरएएफ को तैनात किया गया है।
बंगाल लगातार जल रहा है, लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दिल्ली में तीसरे मोर्चे की तैयारी में जुडी हुई है। हालांकि ममता आज बंगाल लौट सकती है।
आपको बता दें कि सोमवार को बद्र्धमान वेस्ट जिले के रानीगंज में रामनवमी के एक जुलूस को लेकर दो गुटों में हिंसा हो गई थी जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और दो पुलिस अधिकारी घायल हो गए थे। एक प्रदर्शनकारी ने आसनसोल-दुर्गापुर के पुलिस उपायुक्त अरिदंम दत्ता चौधरी पर बम फेंक दिया जिससे अधिकारी को अपना एक हाथ गंवाना पड़ा। उनका दुर्गापुर के अस्पताल में इलाज चल रहा है।
प्रदेश के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी घायल चौधरी को देखने जाने वाले थे लेकिन सरकार ने उन्हें सुरक्षा मुहैया न करा पाने की बात कहकर दुर्गापुर न जाने की सलाह दी है।

बाबुल सुप्रियो का हमला लगातार जारी-
इसी बीच, केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो भी गुरुवार को आसनसोल का दौरा कर सकते हैं. सुप्रियो हिंसा को लेकर लगातार ममता सरकार पर हमलावर रहे हैं। सुप्रियो ने इस संबंध में ट्वीट किया और लिखा कि वह जिहादी सरकार को दिखा देंगे कि बंगाल की आत्मा अभी जिंदा है। उन्होंने ये भी कहा कि सोशल मीडिया पर सैकड़ों तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिनमें से अगर 25 फीसदी भी सही निकलीं तो पता चलेगा कि हालात कितने खराब हैं. सुप्रियो ने इस संबंध में गृह मंत्री राजनाथ सिंह से फोन पर बात की है।