फेडरेशन ने ऊर्जा मंत्री का अभिनंदन कर याद दिलाई वचनपत्र मे शामिल कर्मचारी हितैषी मांगे

0
63
देवास। मप्र विद्युत कर्मचारी संघ फेडरेशन इंटक की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक भोपाल मे प्रादेशिक महामंत्री बीडी गौतम के मुख्य आतिथ्य मे सम्पन्न हुई। जिसमे प्रदेश के विभिन्न जिलो से आए प्रतिनिधियो ने भाग लिया। मप्र विद्युत कर्मचारी संघ फेडरेशन इंटक के रिजनल सेक्रेटरी मकसूद पठान ने बताया कि भोपाल मे दिनांक 11.6.2018 को तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ जी के साथ कर्मचारी संगठनो के साथ चर्चा कर उनकी मांगो को कांग्रेस ने वचनपत्र मे शामिल किया था कि यदि कांग्रेस की सरकार बनती है तो उनकी मांगो को प्राथमिकता के साथ निराकृत किया जायेगा। इसी कड़ी मे एक मांग ऊर्जा मंत्री को सौंपा। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि मांगो का तत्काल निरीक्षण करवाकर उचित कार्यवाही करेंगे। मांगो मे प्रमुख रूप से रिक्त पदो की पूर्ति 60 दिनो में की जाए, आउटसोर्स कर्मचारियो की समस्या का निराकरण, इंडस्ट्रियल डिस्प्यूट्स एक्ट समाप्त कर इंडस्ट्रियल रिलेशन एक्ट बनाना, प्रोफेशन एक्ट मे छूट देना, स्टेनो ग्राफर एवं निज सहायको के महत्वपूर्ण कार्य को देखते हुए उनके वेतन मे सुधार करना, संपूर्ण सेवा काल मे चार स्तरीय समयमान वेतनमान देना, अनुकम्पा नियुक्ति का सरलीकरण करना, महिला कर्मचारियो की मातृत्व अवकाश की विसंगतियो को दूर करना, पेंशनरो को सांतवे वेतनमान का 27 माह का बकाया एरियर चार किश्तो मे भूगतान करना, पूर्व की भांति 25 प्रतिशत निशुल्क बिजली देना, 70 वर्ष की आयु मे 20 प्रतिशत पेंशन बढ़ोतरी करना, सभी अधिकारी-कर्मचारियो का स्वास्थ्य बीमा करवाना, केन्द्रीय पेंशनरो की भांंति राज्य के पेंशनरो को भी 1000 रूपए की चिकित्सा सहायता उपलब्ध करवाना, ई अटेंडेंस जो कि व्यवहारिक नही है उसे समाप्त करना, स्थानांतर नीति का पारदर्शी बनाना ये वो मांगे है जो कांग्र्रेस के वचनपत्र मे सम्मिलित है। फेडरेशन ने इसके लिए जल्द से जल्द वार्ता आयोजित करने की पहल ऊर्जा मंत्री से की है। उन्होंने अतिशीघ्र कार्यवाही का आश्वासन दिया। बैठक  मे फेडरेशन के रिजनल सेके्रटरी मकसूद पठान, कन्नौद फेडरेशन अध्यक्ष शंकरराव दलवी, बागली अध्यक्ष कैलाश वर्मा, देवास ग्रामीण अध्यक्ष उम्मेदसिंह राजपूत, शहर अध्यक्ष राजेन्द्र गौड़, क्षेत्रीय संगठन मंत्री राजेन्द्र सोलंकी, भूषण अत्रे, चेतनसिंह पवार एवं प्रवक्ता प्रहलाद कारपेंटर ने भाग लिया।