11 दिसंबर को विश्व ध्यान दिवस विविध कार्यक्रमों के साथ मनाया जाएगा

0
60
देवास। आध्यात्मिक सदगुरू ओशो के जन्म दिवस के अवसर पर मेरठ में होने वाले आयोजन में ओशो प्रेमी उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से यूएनओ को तो प्रस्ताव भेजे जा रहे हैं। पहला प्रस्ताव 11 दिसंबर को ध्यान दिवस वल्र्ड मेडिटेशन  डे घोषित किया जाए। दूसरा प्रस्ताव ध्यान को शिक्षा में अन्य विषय के रूप में शामिल किया जाए। स्वामी योगेंद्र भारतीय एवं नवीन सोलंकी ने बताया कि प्रात: 8 बजे फ्रीगंज टावर पर ओशो के गांव गाडरवारा से पधारे मनीष शुक्ला के द्वारा सूफियाना भजन कीर्तन के माध्यम से ध्यान का संदेश दिया जाएगा। जिसमें इंदौर, उज्जैन, देवास आदि शहरों के सैकड़ों ओशो प्रेमी नगर कीर्तन करते हुए इंदौर-उज्जैन रोड स्थित ग्राम मीडिया में ओशो महाकाल धाम आश्रम उज्जैन पर निशुल्क ध्यान के प्रैक्टिकल प्रयोग कराए जाएंगे। 13 दिसंबर शाम 6 बजे से तीन दिवसीय ओशो गुरुजीएप ध्यान शिविर होगा। जिसका संचालन स्वामी जीतू मुंबई द्वारा ध्यान के प्रयोग कराए जाएंगे। अधिक से अधिक भाग लेने के मां दिव्यम कांता, स्वामी बोधि नीजैन, मां पिंकी तिवारी, स्वामी प्रेम चिराग, स्वामी अंतरक्रांति, स्वामी निलेश पांचाल, स्वामी राजेश सोनी, स्वामी आनंद वितराग, स्वामी विनयपाल, मां साधना गावडे, हेमंत शर्मा, मनोज श्रीवास, स्वामी बसंत कटारे, स्वामी लकी, मां ध्यान एकता आदि ने आग्रह किया।