2019 लोकसभा चुनाव में यूपी में 73 नहीं 74 सीट जीतेंगे : अमित शाह

0
30

वाराणसी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 2019 लोकसभा चुनाव का बिगुल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में फूंक दिया है। बुधवार को दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे अमित शाह ने सोशल मीडिया वॉलंटियर्स मीट में कहा कि इस बार यूपी में 73 नहीं 74 सीट जीतेंगे। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि 15 अगस्त के बाद से देश पूरी तरह से चुनावी मूड में हो जाना चाहिए।

अमित शाह ने बड़ा लालपुर स्थित हस्तकला संकुल में आयोजित सोशल मीडिया वॉलंटियर्स मीट में बीजेपी के आईटी विभाग और प्रदेश भर से सोशल मीडिया को 2019 के लिए बीजेपी का सबसे बड़ा हथियार बताते हुए विपक्ष की बातों और उनकी तरफ से किए जा रहे वार का जवाब देने का आह्वान किया। सोशल मीडिया के जरिए अमित शाह ने 2019 जीतने का लक्ष्य रखते हुए इस दिशा में ठोस पहल किए जाने की बात कही है। कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे के अलावा बीजेपी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषण में वॉलंटियर मीट में शामिल बीजेपी कार्यकर्ताओं को सोशल मीडिया के जरिए 2019 जीतने के लिए तैयार रहने की अपील की। इसके बाद बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोशल मीडिया को सबसे मजबूत हथियार बताते हुए फेसबुक, वॉट्सएप, ट्विटर व अन्य सोशल मीडिया के माध्यमों के जरिए केंद्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं के अलावा भारतीय जनता पार्टी के लक्ष्य और उसकी हर छोटी बड़ी गतिविधियों की जानकारी पब्लिक तक पहुंचाने के लिए कहा।

अमित शाह ने यह भी अपील की कि सोशल मीडिया के जरिए विपक्ष के हमलावर हो रहे तेवरों पर उनको जवाब देना शुरू कर दीजिए। विपक्ष जो भी बातें कहे, उसके नेता जो भी बयानबाजी अखबारों या टीवी चैनलों पर करें, उसका जवाब सोशल मीडिया पर तुरंत दीजिए। उन्होंने कहा कि हर छोटे-बड़े चीजों पर सोशल मीडिया पर एक्टिव होकर बीजेपी कार्यकर्ता 2019 को जीत सकते हैं।

कार्यक्रम के बाद भारतीय जनता पार्टी वाराणसी के जिला अध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने बताया कि वॉलंटियर्स मीट में अमित शाह ने इस बार उत्तर प्रदेश से 73 नहीं बल्कि 74 से ज्यादा सीट जीतने की बात कही है। उन्होंने कहा कि महागठबंधन का हम पर कोई असर पड़ने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया को मजबूत हथियार बनाने और सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया सबसे बड़ा माध्यम है। 2014 में हमने जिस तरह से उत्तर प्रदेश में अच्छा प्रदर्शन किया इस बार सोशल मीडिया को अपना मजबूत हथियार बनाकर उससे कहीं अच्छा प्रदर्शन हम करेंगे।