आज भूलकर भी न करे ये काम

0
199

मंगलवार का दिन बजरंगबली हनुमान को समर्पित है। हनुमान जी  ही एकमात्र ऐसे देव हैं जो सभी ग्रहों के प्रकोप से मनुष्य को बचाते हैं। शायद यही कारण है कि इन्हें कलियुग का देवता माना गया है। हनुमान जी की कृपा से ही मनुष्य इस कलियुग में मंगल, शनि, राहु और केतु जैसे पापी ग्रहों के दुष्प्रभाव से बचाते हैं।

हनुमत आराधना से व्यक्ति राहु-केतु जैसे भयानक ग्रहों से मुक्ति पाता है। इसलिए ऐसा कहा जाता है कि कलियुग में महाबली हनुमान की आराधना ही सभी ग्रहों के दुष्प्रभाव के मुक्ति दिला सकता है। हनुमान की आराधना के लिए सबसे उत्तम दिन मंगलवार को माना गया है।
ऐसा माना जाता है कि मंगलवार का दिन हनुमान जी को बहुत प्रिय है। मंगलवार को हनुमत अराधना करना लाभकारी है लेकिन बहुत कुछ ऐसा भी है जिसे करना स्वयं अपने पांव पर कुल्हाड़ी मारने जैसा है। मंगल ग्रह आयु का भी प्रतिनिधि है, इसलिए इस दिन की गई छोटी सी भी भूल आयु का भी नाश करती है। ज्योतिषी पंडित धनंजय पाण्डेय के अनुसार इस कुछ कार्यों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए।
  • जो लोग मंगलवार के दिन मिठाई का दान करते हैं उन्हें उस दिन स्वयं मीठा नहीं खाना चाहिए। जिस दिन जिस चीज का दान किया जाता है, उसे उसी दिन ग्रहण नहीं करना चाहिए।
  • मंगलवार के दिन जो कोई भी व्रत रखते हैं उन्हें नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • मंगलवार के दिन मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। साथ ही इस दिन दुकान या किसी भी प्रतिष्ठान पर हवन नहीं करना चाहिए।
  • मंगलवार के दिन नेल कटर का प्रयोग नहीं करना चाहिए और न ही बाल कटवाना चाहिए।
  • मंगलवार के दिन किसी भी धारदार सामान, जैसे छुरी, कांटा, कैंची आदि कदापि नहीं खरीदना चाहिए।