धुंध के कारण सामान ढोने वाले भारी और मध्यम वाहनों की एंट्री पर बैन

0
98
  • आनंद विहार, मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में वायु गुणवत्ता सूचकांक 999 पर पहुंचा
  • सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली समेत देशभर में दिवाली के दिन रात 10 बजे के बाद आतिशबाजी पर लगाई थी रोक

नई दिल्ली । दिवाली के बाद दिल्ली में धुंध की मोदी परत जमा हो गई है। हवा की गुणवत्ता पहले से भी खराब स्तर पर पहुंच गई। गुरुवार सुबह यहां के आनंद विहार और मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 999 पर पहुंच गया। इसके बाद दिल्ली में अगले तीन दिन तक सामान ढोने वाले भारी और मध्यम वाहनों के प्रवेश पर बैन लगा दिया गया। ये आदेश गुरुवार रात 11 बजे से 11 नवंबर रात 11 बजे तक लागू रहेगा।
चाणक्यपुरी में एक्यूआई 459 दर्ज किया गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार शाम सात बजे एक्यूआई 281 था। रात आठ बजे 291 और रात नौ बजे यह 294 हो गया। सीपीसीबी का अनुमान है कि शहर में हवा की गुणवत्ता में गुरुवार दोपहर बाद भी नहीं सुधरेगी। दिल्ली के कई इलाकों में दिवाली की रात सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन का ख्याल नहीं रखा गया और रात 10 बजे के बाद भी आतिशबाजी की जाती रही।

पीएम 2.5 सामान्य से 30 गुना के ऊपर पहुंचा

मेजर ध्यानचंद स्टेडियम (इंडिया गेट) के आसपास पीएम 2.5 का स्तर सामान्य से 30 गुना ज्यादा और पीएम 10 का स्तर 20 गुना ज्यादा दर्ज किया गया। वजीरपुर में 2.5 का स्तर 18 गुना और पीएम 10 12 गुना ज्यादा दर्ज किया गया। जहांगीरपुरी में 2.5 सामान्रू से 17 गुना और पीएम 10 बारह गुना ज्यादा दर्ज किया गया।