आज 1 अक्टूबर से कई चीजों में हुआ बदलाव , आम जनता पर पड़ेगा ये असर

0
75

 

नई दिल्ली: 1 अक्टूबर मतलब आज से कई चीजें बदलने वाली हैं। इनका सीधा असर आप पर पड़ेगा। इसमें रसोई गैस सिलेंडर की कीमत, एटीएफ के दाम, कमोडिटी डेरिवेटिव ट्रेडिंग, ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस, दिल्ली से शिर्डी की फ्लाइट और टीसीएस टीडीएस के प्रावधान प्रमुख हैं। इनमें से अधिकतर फैसलों का असर आप पर होने वाला है।

आज से विमान के ईंधन जिसे एटीएफ (एविएशन टर्बाइन फ्यूल) भी कहा जाता है की कीमतों में बढ़ोतरी लागू हो गई है। इसमें 2650 रुपए प्रति किलोलीटर की बढ़ोतरी की गई है। 1 किलोलीटर में 1 हजार लीटर होता है। पिछले महीने भी इसके दाम 2,250 रुपए प्रति किलोलीटर की बढ़ोतरी की गई थी।

आज से बीएसई में सोने और चांदी के डेरिवेटिव कारोबार की ट्रेडिंग शुरू हो गई है। बीएसई ने इसके लिए 142 ट्रेडिंग मेंबर का रजिस्ट्रेशन भी कर लिया है। इसमें पहले साल लेन-देन के लिए कोई शुल्क नहीं लगेगा। BSE के एमडी और सीईओ आशीष कुमार चौहान ने कहा कि ‘हमें 442 सदस्यों की ओर से आशय पत्र मिले हैं। हम इस समर्थन से अभिभूत और उत्साहित हैं।

सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत दिल्ली में 2.89 रुपए बढ़ गई। नई कीमत आज से लागू हो गई। अब गैस सिलेंडर 502.4 रुपए का मिलेगा। वहीं बिना सब्सिडी वाला सिलेंडर 59 रुपए महंगा हो गया है। अक्टूबर में ग्राहकों के खाते में 376.60 रुपए प्रति सिलेंडर सब्सिडी जमा की जाएगी जो सितंबर 2018 में 320.49 रुपए थी।

आज से दिल्ली में ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस बनाया जा सकेगा। ऐसा करने वाला दिल्ली देश का पहला राज्य बन गया है। इसके तहत सभी आरटीओ में ऑनलाइन अप्लीकेशन ली जाएगी। दिल्ली के 13 लाइसेंसिंग ऑफिस 1 अक्टूबर से e-RTO घोषित हो गए है। अब पेपर के जरिए अर्जी स्वीकार नहीं की जाएगी। इसके तहत फीस भी ऑनलाइन ही ली जाएगी।

दिल्ली से शिर्डी जाने वाले यात्रियों को स्पाइस जेट ने बड़ा तोहफा दिया है। कंपनी ने 1 आज से शिर्डी के लिए सीधी फ्लाइट शुरू कर दी है। आज शिर्डी का एयरपोर्ट 1 साल पूरा कर रहा है। अब शिर्डी से स्पाइस जेट की 4 फ्लाइट हो जाएगी। अभी अलायंस एयर शिर्डी के लिए 3 उड़ान चलता है। ये फ्लाइट दिल्ली से दिन में 12.35 बजे चलेगी और शिर्डी 2.35 बजे पहुंचेगी। वहीं शिर्डी से 3.05 बजे चलकर दिल्ली 4.55 बजे पहुंचेगी।

जीएसटी के तहत ई-कॉमर्स कंपनियां आज से टीडीएस और टीसीएस काटना शुरू कर देंगी। इसके तहत बिक्री करने वालों को 2 फीसदी टीडीएस देना होगा। ये टीडीएस 2.5 लाख रुपए से अधिक की सप्लाई पर लागू होगा। इन कंपनियों को अब किसी सप्लायर्स को पेमेंट करने पर 1 फीसदी टीसीएस भी काटना होगा। राज्य भी इस पर 1 फीसदी टीसीएस लगा सकते हैं।

आज से छोटी बचत योजनाओं पर बढ़ी हुई ब्याज दर भी लागू हो गई है। राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) और सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ), सुकन्या समृद्धि योजना, सीनियर सीटिजन सेविंग स्कीम समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर अक्तूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.4 प्रतिशत तक बढ़ गई है