डीआईजी के आतिथ्य में मनाया विश्व साक्षरता दिवस

0
142

ग्वालियर । हर साल सम्पूर्ण विश्व में 08 सितंबर अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस अथवा विश्व साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है। यूनेस्को के आंकड़ों के अनुसार, भारत की साक्षरता दर 72.1 प्रतिशत है। पुरुषों के बीच साक्षरता 80.9 प्रतिशत है, जबकि महिलाओं के लिए यह 62.8 प्रतिशत है। कार्यात्मक साक्षरता महत्वपूर्ण है क्योंकि भारत एक ऐसा देश है जहां लगभग 280 मिलियन से अधिक अशिक्षित वयस्क हैं और वयस्क शिक्षा भारत के लिए महत्वपूर्ण है। सरकार और गैर-लाभकारी संगठन इस अंतर को कम करने के लिए काम कर रहे हैं।

मुरार के रतवाई कॉलोनी में अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया गया। इस साल 52वां अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया गया था ,इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अशोक गोयल (डीआईजी महिला अपराध ,ग्वालियर चंबल संभाग) उपस्थित रहे, उन्होंने अपने उद्बोधन में महिला हेल्पलाइन 1090 के बारे में लोगों को बताया एवं महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों कैसे रोकें, इस बारे में लोगों से चर्चा की ।
कार्यक्रम में गोपाल किरन संस्था , जिला बाल अधिकार मंच , वामश्री-एजी तथा 4 क्वालिटी एजुकेशन सहयोगी संस्थाएँ रहीं ।