बन्द के नाम पर दंगाइयों ने पैदा किये कर्फ्यू के हालात , एसपी ने सम्हाला मोर्चा

0
131

ग्वालियर । एससी और एसटी एक्ट में तत्काल गिरफ्तारी की बजाए अब पहले जांच के सुप्रीमकोर्ट के निर्णय का विरोध करते हुए सडकों पर सुबह से ही एससी आर एसटी संगठन उतर आए और वाहनों की तोड़फोड़ करते हुए आग लगा दी। शहर के मुरार, गोला का मंदिर क्षेत्र में उस समय हालात बेकाबू हो गए जब उपद्रवियों ने वाहनों को तोड़ने के बाद आग लगाना शुरू कर दिया। दुकानों और घरों में पथराव करने के साथ महिलाओं के साथ भी बदसलूकी की गई। पुलिस ने जब हड़तालियों को नियंत्रण करने के लिए लाठियां चमकाई तो उपद्रवियों ने पुलिस के साथ भी मारपीट करते हुए पथराव कर दिया। पुलिस ने भी हड़तालियों को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और हवाई फायर भी किए लेकिन जब हालात काबू में नहीं हुए तो मुरार, गोला का मंदिर, महाराजपुरा और ठाटीपुर थाना क्षेत्रों में कफ्र्यू लगा दिया। वहीं हड़तालियों ने भी फायर किए हैं। आज सोमवार की सुबह एससी और एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध करते हुए हड़ताली बैसवाॅल के डण्डे और लाठियां  लेकर शहर को बंद कराने निकले और जैसे ही हड़तालियों ने दुकानों में तोड़फोड़ करते हुए मुरार के बाजारों में लूटपाट करनी शुरू की तो पुलिस ने पहले तो समझाइश दी लेकिन हड़तालियों ने पुलिस पर ही पथराव कर दिया जिससे हालात बेकाबू हो गए और पुलिस ने आंसू गैस के गोले  छोड़े तो हड़ताली पथराव करते हुए वाहनों में आग लगाने लगे और वाहनों  को क्षतिग्रस्त करने के साथ महिलाओं के साथ भी बदसलूकी करने लगे।

 

गोला का मंदिर थाने में तोड़फोड़

सड़कों पर उतरे आदोलनकारियों ने आज सुबह दुकानों और वाहनों की तोड़फोड़ करने के बाद गोला का मंदिर थाना पहुंचने के बाद तोड़फोड़ कर दी। सैकड़ो की संख्या में मौजूद हड़तालियों ने थाने को घेरा तो वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने नियंत्रण कक्ष को इसकी जानकारी दी। थाने के घेराव की खबर मिलते ही भारी तादाद में पुलिस बल पहुंचा और  हड़तालियों को खदेड़ दिया। हड़तालियों ने इसके बाद थाने के सामने ही खड़े एक ट्रक को आग के हवाले कर दिया।

 

पुलिसकर्मी भी घायल

पथराव के दौरान कर्ड़ पुलिसकर्मी भी घायल हो गए है। मुरार में एक पुलिसकर्मि को पत्थर लगने से सिर में चोट आई है तो वहीं ठाटीपुर में एक पुलिसकर्मि का हाथ चोटिल हो गया है। मुरार टीआई के घायल होने की खबर भी आ रही है।

 

बहोड़ापुर में तोड़फोड़, बच्चियों से मारपीट

उपद्रवियों ने बहोड़ापुर चैराहे पर लाठियों सरियों के बल पर जबरन बंद कराया, यहां से निकले रहे वाहनों की तोड़फोड़ करने के बाद चालकों से मारपीट की इस दौरान यहां से निकल रही युवतियों से अभद्रता कर मारपीट की। उपद्रवियों के तेवर देख की लोग घरों में छिप गये। वहीं पुलिस सिर्फ मूफ दर्शक बन कर देखती रही। काफी देर बाद जब अतिरिक्त बल वहां पर पहुंच तब कही वहां से उपद्रवी हटे। यहां से जाने के बाद उपद्रवियों ने अन्य इलाकों में भी हंगामा किया।

 

पुलिस का इंटेलीजेंस हुआ फेल

बंद केसाथ ही शहर में उवद्रव की तैयारी पिछले दो दिनों से चल रही थी लेकिन पुलिस के इंटेलिजेंस फेल रहा। जबकि उपद्रवी दो दिनों से लाठी और डंडे खरीद रहे थे लेकिन  पुलिस को भनक तक नहीं लगी। सामान्य तह उपद्रव की स्थिति में पुलिस बंद का आह्वान करने वाले समर्थकों की रात से ही घेराबंदी शुरू कर देती है लेकिन पुलिस ने बंद को हल्के रूप में लिया जिससे शहर के हालात बेकाबू हो गए।

 

बंदूकें निकालकर खदेड़ा

गोला का मंदिर पिटो पार्क, गोवर्धन काॅलोनी, रचना नगर सहित कई इलाकों में हड़तालियों ने दुकानों में लूटपाट और वाहनों को आग लगाने के बाद घरों में घुसकर महिलाओं के साथ बदसलुकी करते हुए मारपीट करनी शुरू की तो परिजनों ने हड़तालियों का सामना करने के लिए अपनी लाइसेंसी बंदूकें निकालकर फायरिंग करनी शुरू कर दी। जैसे ही लोगों ने अपनी छतों से पथराव किया किया और गोलियां चलाई तो हड़ताली भाग खड़े हुए। पुलिस को जैसे ही खबर लगी पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन वहां मौजूद लोगों ने यह कहते हुए पुलिस को भगा दिया कि अब आप जाओं इनसे हम ही निपट लेंगे।

 

ट्रैक पर रखीं पटरी

डबरा रेलवे स्टेशन पर उपद्रवियों ने रेलों को रोकने के लिए ट्रैक पर 12 मीटर का एक लोहे का टुकड़ा रखकर स्टेशन पर कब्जा कर लिया है। मौके पर पहुंची पुलिस को भी उपद्रवियों ने खदेड़ दिया है।